Allso Brand Ambassdor
View All
Dr. Rajendra Chopra Jain

Brand Ambassador Of india

Vastu Shastri

Dr. Rajendra Chopra Jain

Experience : 29Years

Location : Maharashtra, Mumbai

Visitors : 141

Prof.Kartik Rawal

Brand Ambassador Of india

Astrologer

Prof.Kartik Rawal

Experience : Years

Location : Gujarat, MOTERA

Visitors : 76

Sangeeta Sharma

Brand Ambassador Of indor(Madhye Pardesh)

Astrologer

Sangeeta Sharma

Experience : 30Years

Location : Madhya Pradesh, Indore

Visitors : 276

Acharya G Rajiev Goel

Brand Ambassador Of india

Vastu Shastri

Acharya G Rajiev Goel

Experience : 10Years

Location : Delhi, New delhi

Visitors : 361

Acharya Pt. Subodh Pathak

Brand Ambassador Of Gaya (Bihar)

Astrologer

Acharya Pt. Subodh Pathak

Experience : 8 YearsYears

Location : Bihar, bihar

Visitors : 363

Dr. Sunita N. Joshi

Brand Ambassador Of Nagpur(mharashtra)

Vastu Shastri

Dr. Sunita N. Joshi

Experience : 10 YearsYears

Location : Maharashtra, Pratap Nagar,

Visitors : 448

Saddhana Agarwal

Brand Ambassador Of Delhi (Uttam Nagar)

Vastu Shastri

Saddhana Agarwal

Experience : 23 YEARYears

Location : Delhi, Uttamnagar

Visitors : 209

Himanshu Bhardwaj

Brand Ambassador Of Delhi

Astrologer

Himanshu Bhardwaj

Experience : 5Years

Location : Delhi, Delhi

Visitors : 216

Vaishalee Suryavanshi

Brand Ambassador Of Madhya pardesh

Numerologer

Vaishalee Suryavanshi

Experience : 10Years

Location : Madhya Pradesh, Indore

Visitors : 105

Govind  Maharaj

Brand Ambassador Of Ahemdabad

Astrologer

Govind Maharaj

Experience : 18Years

Location : Gujarat, AHMEDABAD

Visitors : 405

Dr. Asmita  Acharya

Brand Ambassador Of Delhi

Astrologer

Dr. Asmita Acharya

Experience : 17Years

Location : Delhi, New Delhi

Visitors : 553

Vineeta Sehgal

Brand Ambassador Of Delhi

Tarot Card Reader

Vineeta Sehgal

Experience : 25Years

Location : Delhi, Delhi

Visitors : 448

Pramod Mahadev Sabale

Brand Ambassador Of Amravati(mharashtra)

Astrologer

Pramod Mahadev Sabale

Experience : 46Years

Location : Maharashtra, Amravati

Visitors : 328

Dr. Bharat Dave

Brand Ambassador Of india

Paranormal Activity Investigator

Dr. Bharat Dave

Experience : 20Years

Location : Gujarat, Ahmedabad

Visitors : 310

Dr. JEETENDRA MANEEYAR

Brand Ambassador Of BORIWALI

Vedic Vastu Consultants

Dr. JEETENDRA MANEEYAR

Experience : 27Years

Location : Maharashtra, MUMBAI

Visitors : 178

Vinita Raghuvanshi Verma

Brand Ambassador Of Noida (U.P.)

Vedic Astrologer

Vinita Raghuvanshi Verma

Experience : 7Years

Location : Uttar Pradesh, NOIDA

Visitors : 860

Dr. Shivnath Aghori

Brand Ambassador Of Nadiya (West Bangol)

Astrologer

Dr. Shivnath Aghori

Experience : 20Years

Location : West Bengal, Nadia

Visitors : 1119

Nilesh Lalitchandra Vyas

Brand Ambassador Of india

Astrologer

Nilesh Lalitchandra Vyas

Experience : 25Years

Location : Gujarat, Jamnagar

Visitors : 220

HEENA  ATAL

Brand Ambassador Of Delhi

Numerology

HEENA ATAL

Experience : 8Years

Location : Delhi, delhi

Visitors : 177

Sanket Bhardwaj

Brand Ambassador Of Jaipur

Astrologer

Sanket Bhardwaj

Experience : 12Years

Location : Rajasthan, Jaipur

Visitors : 194

Rakesh Mohan Gautam

Brand Ambassador Of Noida (U.P.)

Astrologer

Rakesh Mohan Gautam

Experience : 5Years

Location : Uttar Pradesh, Noida

Visitors : 135

Shivaani K Jhaa

Brand Ambassador Of India

Tarot Card Reader

Shivaani K Jhaa

Experience : 7Years

Location : Gujarat, surat

Visitors : 79

Dr. Narendra L.Bhesdadiya

Brand Ambassador Of Gujarat

Vastu Shastri

Dr. Narendra L.Bhesdadiya

Experience : 30Years

Location : Gujarat, JAMNAGAR

Visitors : 412

Dr. NAVEEN VERMA

Brand Ambassador Of india

TANTRA ACHARYA

Dr. NAVEEN VERMA

Experience : 38Years

Location : Himachal Pradesh, SOLAN

Visitors : 156

Bipinbhai Maharaj

Brand Ambassador Of Gujarat

Astrologer

Bipinbhai Maharaj

Experience : 16Years

Location : Gujarat, Ananad

Visitors : 840

Preeti Sharma

Brand Ambassador Of Delhi

Vedic Astrologer

Preeti Sharma

Experience : 15Years

Location : Delhi, Delhi

Visitors : 148

Jigar Pandya

Brand Ambassador Of jamnagar

Astrologer

Jigar Pandya

Experience : 15Years

Location : Gujarat, Jamnagar

Visitors : 130

Pragna A. Patel

Brand Ambassador Of NADIAD

Reiki Healer

Pragna A. Patel

Experience : 19 YearYears

Location : Gujarat, Nadiad

Visitors : 281

Dr. Vijay Kadakia

Brand Ambassador Of india

SPIRITUAL THIRD EYE DIVINE HEALER

Dr. Vijay Kadakia

Experience : 40Years

Location : Gujarat, VADODARA

Visitors : 343

Raj jyotishi Pt. Kirpa Ram Upadhyay

Brand Ambassador Of Madhya Pradesh

Vedic Astrologer

Raj jyotishi Pt. Kirpa Ram Upadhyay

Experience : 30 years & patric parampara se Years

Location : Madhya Pradesh, BHOPAL

Visitors : 335

6913 +

total active astrologers

32 +

total brand ambassador

15 +

total featured astrologer

798403 +

total visitors

432 +

total blogs

840+

Review's

Allso Featured Astrologers
Latest Astro News

Here You Can See Daily Updates For Any Event, Astrology, Your Life

भारतभाई खंधेडीया* को स्टार एस्ट्रो अकैडमी पुणे की ओर से गौरव पुरस्कार से सम्मानित किया गया

भारतभाई खंधेडीया* को स्टार एस्ट्रो अकैडमी पुणे की ओर से गौरव पुरस्कार से सम्मानित किया गया

Read News
अलसो ग्रुप के डायरेक्टर प्रोफेसर कार्तिक रावल जी  की  वास्तु शास्त्र ट्रेनर भाई श्री जितेन भाई भट्ट जी से आज हमारी मुलाकात हुई ||

अलसो ग्रुप के डायरेक्टर प्रोफेसर कार्तिक रावल जी की वास्तु शास्त्र ट्रेनर भाई श्री जितेन भाई भट्ट जी से आज हमारी मुलाकात हुई ||

Read News
ओल्सो ग्रुप के डायरेक्टर कार्तिक रावल जी और  गुजराती कलाकार  श्री ग्रीवा कंसारा { फ़ेसबुक और यूट्यूब में बहुत ख्यातनाम } से एक छोटी सी मुलाक़ात उनके घर पर हुई

ओल्सो ग्रुप के डायरेक्टर कार्तिक रावल जी और गुजराती कलाकार श्री ग्रीवा कंसारा { फ़ेसबुक और यूट्यूब में बहुत ख्यातनाम } से एक छोटी सी मुलाक़ात उनके घर पर हुई

Read News
प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल जी प्रसिद्ध अभिनेत्री लोकप्रिय श्री मति भुमिका चावला जी ने ज्योतिष में लाइफ़टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड और स्टार एचीवर अवार्ड से सम्मानित किया गया

प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल जी प्रसिद्ध अभिनेत्री लोकप्रिय श्री मति भुमिका चावला जी ने ज्योतिष में लाइफ़टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड और स्टार एचीवर अवार्ड से सम्मानित किया गया

Read News
प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल जी भाई श्री प्रमोद कुमार राजपूत से आज अहमदाबाद में उनके निवास स्थान पर 1 छोटी सी मुलाक़ात हुई

प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल जी भाई श्री प्रमोद कुमार राजपूत से आज अहमदाबाद में उनके निवास स्थान पर 1 छोटी सी मुलाक़ात हुई

Read News
गुजरात के ओप्पो मोबाइल के हेड श्री भैरव पांधी जी के साथ जी  रूबरू मुलाक़ात हुई प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल जी

गुजरात के ओप्पो मोबाइल के हेड श्री भैरव पांधी जी के साथ जी रूबरू मुलाक़ात हुई प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल जी

Read News

जानिए कालसर्प दोष  का महत्व 

Read News

Mahashivaratri Vrat Ka Mahima

Read News
गुजरात की पावन भूमि पर अहल्या नगरी इंदौर के विद्वान पंडित आचार्य संतोष भार्गव जी का ब्रह्म महारथी पुरस्कार से सम्मान होगा

गुजरात की पावन भूमि पर अहल्या नगरी इंदौर के विद्वान पंडित आचार्य संतोष भार्गव जी का ब्रह्म महारथी पुरस्कार से सम्मान होगा

Read News

गुजरात के अहमदाबाद शहर में अब होगा सबसे बड़ा एस्ट्रोलॉजीकल वास्तु फ़ैशन रियल एस्टेट बिज़नेस और रुद्राक्ष का सबसे बड़ा exhibition सैमीनार

Read News

09 मई को बॉलीवुड एक्ट्रेस भाग्यश्री के द्वारा एस्ट्रोलॉयर्स को किया जायेगा सम्मानित

Read News
International Business Startup and Entrepreneurs Association, IBSEA के द्वारा Constitution Club Of India , New Delhi में   Embassy Of Palestine से Counsellor श्रीमान Basem F. Hellis द्वारा प्रोफ़ेसर कार्तिक भाई शास्त्रीजी का सम्मान किया गया

International Business Startup and Entrepreneurs Association, IBSEA के द्वारा Constitution Club Of India , New Delhi में Embassy Of Palestine से Counsellor श्रीमान Basem F. Hellis द्वारा प्रोफ़ेसर कार्तिक भाई शास्त्रीजी का सम्मान किया गया

Read News
Constitution Club Of India , New Delhi में  IBSEA के द्वारा Business Networking Meet-up 5.0 का सफल आयोजन किया गया

Constitution Club Of India , New Delhi में IBSEA के द्वारा Business Networking Meet-up 5.0 का सफल आयोजन किया गया

Read News
Allso Group or भारतीय प्राच्य विद्या संस्थान के तत्वाधान  2024 द्वारा आयोजित एस्ट्रो मेला 2024 का प्रथम ब्रोसर का प्रमोशन  हुई

Allso Group or भारतीय प्राच्य विद्या संस्थान के तत्वाधान  2024 द्वारा आयोजित एस्ट्रो मेला 2024 का प्रथम ब्रोसर का प्रमोशन  हुई

Read News
ITPO आयोजित नक्षत्र 2024 में श्री श्री 1008 श्री शनिधाम पीठाधीश्वर  महामंडलेश्वर परमहंस स्वामी निजस्वरूपानन्दपुरी (दाती महाराज) जी का Allso के स्टॉल पर शुभेच्छक मुलाक़ात

ITPO आयोजित नक्षत्र 2024 में श्री श्री 1008 श्री शनिधाम पीठाधीश्वर  महामंडलेश्वर परमहंस स्वामी निजस्वरूपानन्दपुरी (दाती महाराज) जी का Allso के स्टॉल पर शुभेच्छक मुलाक़ात

Read News
 ITPO आयोजित नक्षत्र 2024 में आचार्य गुरुदेव J D वशिष्ठ जी का Allso  के  स्टॉल पर शुभेच्छक मुलाक़ात

ITPO आयोजित नक्षत्र 2024 में आचार्य गुरुदेव J D वशिष्ठ जी का Allso के स्टॉल पर शुभेच्छक मुलाक़ात

Read News
 ITPO आयोजित नक्षत्र 2024 में आचार्य गुरुदेव J D वशिष्ठ जी का Allso  के  स्टॉल पर शुभेच्छक मुलाक़ात

ITPO आयोजित नक्षत्र 2024 में आचार्य गुरुदेव J D वशिष्ठ जी का Allso के स्टॉल पर शुभेच्छक मुलाक़ात

Read News
गुजरात के सुप्रसिद्ध लाल किताब के एक्सपर्ट श्री डॉक्टर अजय कुमार शुक्ला  जी को ज्योतिष महारथी अवार्ड एवं  ट्रॉफी देकर सम्मानित किया

गुजरात के सुप्रसिद्ध लाल किताब के एक्सपर्ट श्री डॉक्टर अजय कुमार शुक्ला जी को ज्योतिष महारथी अवार्ड एवं ट्रॉफी देकर सम्मानित किया

Read News
 AI ASTORLOGY AAP  के शुभ मुहूर्त में गुजरात के ज्योतिष क्षेत्र से  मूर्धन्य विद्वान पंडित जी प्रो.कार्तिक रावल जी को मंत्रोच्चार करने का सौभाग्य  प्राप्त हुआ 

AI ASTORLOGY AAP  के शुभ मुहूर्त में गुजरात के ज्योतिष क्षेत्र से  मूर्धन्य विद्वान पंडित जी प्रो.कार्तिक रावल जी को मंत्रोच्चार करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ 

Read News
 AI ASTORLOGY AAP  के शुभ मुहूर्त में गुजरात के ज्योतिष क्षेत्र से  मूर्धन्य विद्वान पंडित जी प्रो.कार्तिक रावल जी को मंत्रोच्चार करने का सौभाग्य  प्राप्त हुआ 

AI ASTORLOGY AAP  के शुभ मुहूर्त में गुजरात के ज्योतिष क्षेत्र से  मूर्धन्य विद्वान पंडित जी प्रो.कार्तिक रावल जी को मंत्रोच्चार करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ 

Read News
सम्मेलन को दीप प्रज्वलित कर के शुभारंभ करते हुए ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर  प्रो.कार्तिक रावल

सम्मेलन को दीप प्रज्वलित कर के शुभारंभ करते हुए ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रो.कार्तिक रावल

Read News
सम्मेलन को दीप प्रज्वलित कर के शुभारंभ करते हुए

सम्मेलन को दीप प्रज्वलित कर के शुभारंभ करते हुए

Read News
तीसरा लाइफ टाईम एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर  प्रो.कार्तिक रावल को

तीसरा लाइफ टाईम एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर  प्रो.कार्तिक रावल को

Read News

"शासकीय संस्कृत महाविद्यालय द्वारा आयोजित "राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी -२" ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रो.कार्तिक रावल की सम्मानित किया गया

Read News
तीसरा लाइफ टाईम एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर  प्रो.कार्तिक रावल को

तीसरा लाइफ टाईम एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर  प्रो.कार्तिक रावल को

Read News
मकर संक्रांति 15-1- 2024 TIME 02-44 AM सूर्य मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे

मकर संक्रांति 15-1- 2024 TIME 02-44 AM सूर्य मकर राशि में प्रवेश कर जाएंगे

Read News
मोटिवेशन आर्टिस्ट श्री पूनम कालरा जी द्वारा लिखित इमेजिंग सीक्रेट बुक प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल गिफ्ट की गई

मोटिवेशन आर्टिस्ट श्री पूनम कालरा जी द्वारा लिखित इमेजिंग सीक्रेट बुक प्रोफ़ेसर कार्तिक रावल गिफ्ट की गई

Read News
We were extremely pleased to present Kartik Rawal ji with the Lift Time Achievement Award

We were extremely pleased to present Kartik Rawal ji with the Lift Time Achievement Award

Read News
प्रोफेसर कार्तिकभाई रावल को दिल्ली में दूसरा

प्रोफेसर कार्तिकभाई रावल को दिल्ली में दूसरा "लाइफ टाइम अचीवमेंटअवार्ड " गुरूजी ज्ञान संस्था दिल्ली द्वारा प्राप्त हुआ

Read News
आज Business Networking Meet-up IBSEA  में शामिल होकर ,हम सबकी हौसला आफजाई की , 2024 में Business Networking के लिए अपने सुझाव प्रस्तुत किए

आज Business Networking Meet-up IBSEA में शामिल होकर ,हम सबकी हौसला आफजाई की , 2024 में Business Networking के लिए अपने सुझाव प्रस्तुत किए

Read News
फ्यूचर पॉइंट दिल्ली के ऑनर श्री अरुण कुमार बंसल को लाइफटाइम अचीवमेंटए अवॉर्ड से सम्मानित किया गया

फ्यूचर पॉइंट दिल्ली के ऑनर श्री अरुण कुमार बंसल को लाइफटाइम अचीवमेंटए अवॉर्ड से सम्मानित किया गया

Read News
गुजरात के धवल कुमार व्यास जी ( सुंदरकांड वक्ता )को दिल्ली में स्टार एक्सीलेंस अवार्ड मिला

गुजरात के धवल कुमार व्यास जी ( सुंदरकांड वक्ता )को दिल्ली में स्टार एक्सीलेंस अवार्ड मिला

Read News
वास्तुशास्त्र में घड़ी का महत्व

वास्तुशास्त्र में घड़ी का महत्व

Read News
BEST OF THE YEAR-2023

BEST OF THE YEAR-2023"* के सम्मान  कार्तिक भाइ शास्त्री जी को पुरे भारत से 150 से ज्यादा VIP लोगों के बीच में कार्तिकभाइ शास्त्री जी को सम्मानित अवार्ड और सम्मानपत्र दिया  गया

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ विजय कडाकिया जी को ऑलसो ग्रुप  के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ विजय कडाकिया जी को ऑलसो ग्रुप के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर विनीता रघुवंशी वर्मा जी को ऑलसो ग्रुप  के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर विनीता रघुवंशी वर्मा जी को ऑलसो ग्रुप के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
पंडित दिनेश गुरुजी ने ज्योतिष के क्षेत्र में विज्ञान भवन में सम्मेलन आयोजित करके रचा इतिहास ।

पंडित दिनेश गुरुजी ने ज्योतिष के क्षेत्र में विज्ञान भवन में सम्मेलन आयोजित करके रचा इतिहास ।

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ अस्मिता आचार्य जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ अस्मिता आचार्य जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर  हिना अटल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर हिना अटल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ नवीन वर्मा जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ नवीन वर्मा जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर हिमांशु भारद्वाज जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर हिमांशु भारद्वाज जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रीति शर्मा जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रीति शर्मा जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. जीतेंद्र मनेयार जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. जीतेंद्र मनेयार जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर संकेत भारद्वाज जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर संकेत भारद्वाज जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर आचार्य जी राजीव गोयल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर आचार्य जी राजीव गोयल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रमोद महादेव साबले जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रमोद महादेव साबले जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर साधना अग्रवाल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर साधना अग्रवाल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर विनीता सहगल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर विनीता सहगल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रग्ना ए. पटेल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रग्ना ए. पटेल जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. सुनीता एन. जोशी जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. सुनीता एन. जोशी जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. भरत दवे जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. भरत दवे जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. नरेंद्र एल भेसदड़िया जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर डॉ. नरेंद्र एल भेसदड़िया जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर नीलेश ललितचंद्र व्यास जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर नीलेश ललितचंद्र व्यास जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर आचार्य पं. -सुबोध पाठक जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर आचार्य पं. -सुबोध पाठक जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर बिपिनभाई महाराज जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर बिपिनभाई महाराज जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर  प्रो.कार्तिक रावल को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर प्रो.कार्तिक रावल को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर श्री राज ज्योतिषी पं. किरपा राम उपाध्याय जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर श्री राज ज्योतिषी पं. किरपा राम उपाध्याय जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एम्बेसडर शिवानी के झा को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वार दिल्ली में सम्मानित किया गया  !

ऑलसो के ब्रांड एम्बेसडर शिवानी के झा को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वार दिल्ली में सम्मानित किया गया !

Read News
ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर श्री राकेश मोहन जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर श्री राकेश मोहन जी को फिल्म स्टार गुलशन ग्रोवर जी के द्वारा दिल्ली में सम्मानित किया गया

Read News
 ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर को दिल्ली में सम्मानित भी किया गया है।

ऑलसो के ब्रांड एंबेसडर को दिल्ली में सम्मानित भी किया गया है।

Read News
 डाक्टर एच एस रावत जी,को नेपाल की धरती पर 49वां इंडो - नेपाल लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड  प्राप्त हुआ

डाक्टर एच एस रावत जी,को नेपाल की धरती पर 49वां इंडो - नेपाल लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड प्राप्त हुआ

Read News
चतुर्थ आशा ज्योतिष सम्मेलन का दीप प्रज्वलित ज्योतिषाचार्य द्वारा

चतुर्थ आशा ज्योतिष सम्मेलन का दीप प्रज्वलित ज्योतिषाचार्य द्वारा

Read News

"GOLD MEDALIST IN ASTROLOGY AWARD 2023" प्राप्त हुआ । Jyotishachary Manvendra singh ji ko

Read News
 प्रो. कार्तिक भाई शास्त्री जी को नई दिल्ली में कई अतिथियों द्वारा सम्मानित

प्रो. कार्तिक भाई शास्त्री जी को नई दिल्ली में कई अतिथियों द्वारा सम्मानित

Read News
JYOTISH FOUNDATION IN DUBAI

JYOTISH FOUNDATION IN DUBAI

Read News
JYOTISH FOUNDATION IN DUBAI

JYOTISH FOUNDATION IN DUBAI

Read News
Nileshbhai is Comming on 3rd Desember

Nileshbhai is Comming on 3rd Desember

Read News
What People Say

"acharya rajkumar sharma ji ne ek ek baat jabardat batyi hai mujhe jyotish pe bharosa nhi tha lekin aaj kai baat aisi baatyi ke mujhe vishwash ho gya thanks allso group itna accha platform bananne k liye"

rekha

Allso.in

"Perfect prediction and guidance "

Hemangini Jain

Allso.in

"आपकी गाइडलाइन से मेरे जीवन में काफ़ी बदलाब आया हैं"

Arun Tiwari

Allso.in

"आपके मार्गदर्शन से मुझे काफी अच्छा समाधान प्राप्त हुआ"

Shaila

Allso.in

"आपसे मिलने के बाद मेरे जीवन में बहुत अच्छा हो रहा हैं"

Gopal singh

Allso.in

"One Of The Best LAL KITAB JYOTISH ,PALMISTRY And FACE READING I Suggest All Of You Consult Rajkumar sir for face reader and Palmistry "

Ashish Lodhi

Allso.in

"I would like to join the platform as and astrologer, or tarot reader or vastu consultant"

Vibha Umesh Mate

Allso.in

"आपसे मिलने के बाद मेरे जीवन में बहुत अच्छा हो रहा हैं"

NEHA GUPTA

Allso.in

"आपकी गाइडलाइन से मेरे जीवन में काफ़ी बदलाब आया हैं"

Kanhaiya Ujala

Allso.in

"आपके ज्योतिष मार्गदर्शन एवं आपकी सलाह के कारण आज हमारे घर में सुख शांति हैं"

Sachin Kumar

Allso.in

"आपसे मिलने के बाद मेरे जीवन में बहुत अच्छा हो रहा हैं"

Sheikh Raees Ahmed

Allso.in

"आपके मार्गदर्शन से मुझे काफी अच्छा समाधान प्राप्त हुआ"

Bhupen chakraborty

Allso.in

"आपके ज्योतिष समाधान से आज मेरे बिज़नेस में काफी अच्छा लाभ प्राप्त हुआ"

Mk shatri

Allso.in

"आपके ज्योतिष मार्गदर्शन एवं आपकी सलाह के कारण आज हमारे घर में सुख शांति हैं"

Priti

Allso.in

"आपकी गाइडलाइन से मेरे जीवन में काफ़ी बदलाब आया हैं"

Prince Patel

Allso.in

"आपके ज्योतिष मार्गदर्शन एवं आपकी सलाह के कारण आज हमारे घर में सुख शांति हैं"

Gopal

Allso.in

"आपके ज्योतिष दिशानिर्देश एवं आपकी सलाह के कारण आज हमारे घर में सुख शांति है"

Mukesh sharma

Allso.in

"प्रणाम आपके वास्तु आधारित मार्गदर्शन प्राप्त करके आज हमारे घर में बहुत ही शांति और खुशी है।"

Krishana

Allso.in

"उपरोक्त ज्योतिषी की मुलाकात के बाद मेरे जीवन में बहुत बदलाव आए हैं और अच्छा लाभ प्राप्त हुआ है आप भी एक बार उपरोक्त उपरोक्त ज्योतिषी से"

Arnav

Allso.in

"Very experienced in astrology and astro vastu. I have been taking consultation and remedies since 7years now and it has done changed my life. "

Ria

Allso.in

"Best astrologer in the city must visit."

Bhawna saxen

Allso.in

"Mr. Virendra Patangwala is the Great personality in field of Astrology Council and Spritual Science. I recommend to every one to connect with him."

Aishwary Pat

Allso.in

"You have awesome knowledge about astrology and you are very positive person. You motivate the people always and shows a right path to make life easy. "

Surya Pratap

Allso.in

"Guru ji as you said it happened as you said it happened I got my job and I survived even that attack thanks Guru ji be your grace🙏🙏"

Vishal Tyagi

Allso.in

"Sir, you have helped me a lot, thank you very much, no matter how much I say about you here it’s very less."

Krishna

Allso.in

"Vivek Ji’s work is pure. The way he studied me was commendable. He gave me genuine advices to grow well. His observation is deep. "

Pooja Rajput

Allso.in

"She’s the Best tarrot reader that I’ve consulted."

Meenal

Allso.in

"Best tarot card reader in Indore"

Avni

Allso.in

"Humne gurujii se kuch prashan puche the apni neet preparation k samaye aur gurujii k ashirwaad de aaj humara medical mae admission hogaya aur hum MBBS kar rahen hai "

Anuj bharadw

Allso.in

"Accurate direction and guidance provided using proper astrological science. Very happy with his interactive approach."

Satish Sabni

Allso.in

"Hi"

ashwin verma

Allso.in

"Hi"

ashwin verma

Allso.in

"Hi"

ashwin verma

Allso.in

"acharya rajkumar sharma ji ne ek ek baat jabardat batyi hai mujhe jyotish pe bharosa nhi tha lekin aaj kai baat aisi baatyi ke mujhe vishwash ho gya thanks allso group itna accha platform bananne k liye"

rekha

Allso.in
Our Product
View All
2 Mukhi Rudraksh (3.0)
2 Mukhi Rudraksh (3.0)
₹1800
₹ 2000
12 Mukhi Rudraksh (4.0)
12 Mukhi Rudraksh (4.0)
₹6400
₹ 6700
Lasuniya
Lasuniya
₹2321
₹ 2499
Pukhraj
Pukhraj
₹3770
₹ 3850
11 Mukhi Rudraksh (3.0)
11 Mukhi Rudraksh (3.0)
₹11500
₹ 12000
Diamond Shukra 5.62 ct
Diamond Shukra 5.62 ct
₹570
₹ 650
5 Mukhi Rudraksh (5.0)
5 Mukhi Rudraksh (5.0)
₹121
₹ 199
8 Mukhi Rudraksh (4.0)
8 Mukhi Rudraksh (4.0)
₹3600
₹ 3900
4 Mukhi Rudraksh (4.0)
4 Mukhi Rudraksh (4.0)
₹600
₹ 899
Navgrah Ynatra
Navgrah Ynatra
₹211
₹ 350
9 Mukhi Rudraksh (3.0)
9 Mukhi Rudraksh (3.0)
₹8100
₹ 8500
4 Mukhi Rudraksh (1.0)
4 Mukhi Rudraksh (1.0)
₹1000
₹ 1200
Diamond Shukra 5.57
Diamond Shukra 5.57
₹560
₹ 650
9 Mukhi Rudraksh (5.0)
9 Mukhi Rudraksh (5.0)
₹5400
₹ 5700
Red Jaspar + Moti
Red Jaspar + Moti
₹480
₹ 600
Moti
Moti
₹1570
₹ 1650
Brand Blog
View All
Admin Blog
View All
Astrologer Blog
View All
Vendor Shop
View All
REALTOR
232 products
  • Address: A502 Devan, Motera, Ahmedabad , Gujarat, India - 380005
Visit Store
REALTOR
  • Address: NAYANNAGAR BUS STOP, G.D.ROAD, SAIJPUR, KRISHNANAGAR, AHMEDABAD-45
Visit Store
REALTOR
37 products
  • Address: Paladi, Ahmedabad
Visit Store
REALTOR
  • Address: Surat , Gujarat , India
Visit Store
REALTOR
  • Address: Shop No. 15 ,Galaxy Line, Behind Samartheshwar Mahadev Temple , C.G Road, Ahmedabad , Gujarat, India - 380006
Visit Store
REALTOR
  • Address: Khari kui na nake Niyar swaminarayan temple, Khambhat, Gujarat, India - 388620
Visit Store
REALTOR
  • Address: 799, Revakali Ni Khadki, Haja Patel`s Pole, kalupur, Ahmedabad , Gujarat , India - 380001
Visit Store
REALTOR
24 products
  • Address: 42, Ground Floor, Shingji Bhavan,Dr Maishri Road,Next To Sandhurst road Station,Mumbai,Maharashtra,India - 400009
Visit Store
Book Pooja
View All
pooja image

Chandra Mantra Jap Of Graha

View Pooja
pooja image

Kal Sarp Yog Pooja

View Pooja
pooja image

Ketu Pooja

View Pooja
pooja image

Yagnopavit Sanskar

View Pooja
Latest Product
View All
Our Brands
Allso.in Image
Allso.in Image
Allso.in Image
Allso.in Image
Allso.in Image

Daily Update

Here You Can See Daily Updates For Any Event, Astrology, Your Life

प्रत्येक ग्रह के लिए निर्धारित पेड़ -पौधे :-का प्रयोग करने से अंतश्चेतना में सकारात्मक सोच का संचार होता है तत्पश्चात हमारी मनोकामनाये शनै शनै पूरी होने लगती है।आप सब सुखी रहे ,प्रसन्न रहे, मस्त रहें और स्वस्थ रहें ।

सूर्य –       अकोन ( एकवन) ,
चन्द्रमा – पलास, 
मंगल – खैर,
बुद्ध –     चिरचिरी, 
गुरु –      पीपल, 
शुक्र –     गुलड़, 
शनि –    शमी, 
राहु –      दुर्वा , 
केतु –     कुश 

बारह राशियों के लिए निर्धारित पेड़ पौध :- का प्रयोग करने से अंतश्चेतना में सकारात्मक सोच का संचार होता है तत्पश्चात हमारी मनोकामनाये शनै शनै पूरी होने लगती है। आप सब सुखी रहे ,प्रसन्न रहे, मस्त रहें और स्वस्थ रहें ।

राशि –      पेड़-पौधे 
मेष –        आंवला ,
वृष –         जामुन, 
मिथुन –    शीशम, 
कर्क –       नागकेश्वर, 
सिंह –       पलास, 
कन्या –     रिट्ठा, 
तुला –      अजरुन, 
वृश्चिक –  भालसरी, 
धनु –        जलवेतस, 
मकर –     अकोन, 
कुंभ –       कदम्ब 
मीन –       नीम

27 नक्षत्रो के लिए निर्धारित पेड़ पौधे :- का प्रयोग करने से अंतश्चेतना में सकारात्मक सोच का संचार होता है तत्पश्चात हमारी मनोकामनाये शनै शनै पूरी होने लगती है।आप सब सुखी रहे ,प्रसन्न रहे, मस्त रहें और स्वस्थ रहें ।

अश्विनी  –  कोचिला,
भरनी  –  आंवला ,
कृतका  –  गुल्लड़ ,
रोहिणी  –  जामुन ,
मृगशिरा  –   खैर ,
आद्रा  –   शीशम ,
पुनर्वसु  –  बांस ,
पुष्य  – पीपल ,
अश्लेषा  –   नागकेसर,
मघा  –  बट,
पूर्वा फाल्गुन  –  पलास,
उत्तरा फाल्गुन  –  पाकड़,
हस्त  –    रीठा,
चित्रा  –   बेल,
स्वाती -    अजरुन,
विशाखा  –   कटैया ,
अनुराधा  –   भालसरी ,
ज्योष्ठा  –    चीर,
मूला  –     शाल,
पूर्वाषाढ़  –    अशोक ,
उत्तराषाढ़  –    कटहल ,
श्रवण  –   अकौन,
धनिष्ठा  –  शमी,
शतभिषा  –  कदम्ब ,
पूर्व भाद्र  –  आम,
उत्तरभाद्र  –   नीम ,
रेवती  –   महुआ

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से पैंतीस रहस्य शिव हर काल में

भगवान शिव ने हर काल में लोगों को दर्शन दिए हैं। राम के समय भी शिव थे। महाभारत काल में भी शिव थे और विक्रमादित्य के काल में भी शिव के दर्शन होने का उल्लेख मिलता है। भविष्य पुराण अनुसार राजा हर्षवर्धन को भी भगवान शिव ने दर्शन दिए थे।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से चौंतीस रहस्य देवों के देव महादेव

 देवताओं की दैत्यों से प्रतिस्पर्धा चलती रहती थी। ऐसे में जब भी देवताओं पर घोर संकट आता था तो वे सभी देवाधिदेव महादेव के पास जाते थे। दैत्यों, राक्षसों सहित देवताओं ने भी शिव को कई बार चुनौती दी, लेकिन वे सभी परास्त होकर शिव के समक्ष झुक गए इसीलिए शिव हैं देवों के देव महादेव। वे दैत्यों, दानवों और भूतों के भी प्रिय भगवान हैं। वे राम को भी वरदान देते हैं और रावण को भी।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से तैंतीस रहस्य शिव और शंकर

 शिव का नाम शंकर के साथ जोड़ा जाता है। लोग कहते हैं– शिव, शंकर, भोलेनाथ। इस तरह अनजाने ही कई लोग शिव और शंकर को एक ही सत्ता के दो नाम बताते हैं। असल में, दोनों की प्रतिमाएं अलग-अलग आकृति की हैं। शंकर को हमेशा तपस्वी रूप में दिखाया जाता है। कई जगह तो शंकर को शिवलिंग का ध्यान करते हुए दिखाया गया है। अत: शिव और शंकर दो अलग अलग सत्ताएं है। हालांकि शंकर को भी शिवरूप माना गया है। माना जाता है कि महेष (नंदी) और महाकाल भगवान शंकर के द्वारपाल हैं। रुद्र देवता शंकर की पंचायत के सदस्य हैं।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से बत्तीस रहस्य शिव का दर्शन

 शिव के जीवन और दर्शन को जो लोग यथार्थ दृष्टि से देखते हैं वे सही बुद्धि वाले और यथार्थ को पकड़ने वाले शिवभक्त हैं, क्योंकि शिव का दर्शन कहता है कि यथार्थ में जियो, वर्तमान में जियो, अपनी चित्तवृत्तियों से लड़ो मत, उन्हें अजनबी बनकर देखो और कल्पना का भी यथार्थ के लिए उपयोग करो। आइंस्टीन से पूर्व शिव ने ही कहा था कि कल्पना ज्ञान से ज्यादा महत्वपूर्ण है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से इकतीस रहस्य बारह ज्योतिर्लिंग

सोमनाथ, मल्लिकार्जुन, महाकालेश्वर, ॐकारेश्वर, वैद्यनाथ, भीमशंकर, रामेश्वर, नागेश्वर, विश्वनाथजी, त्र्यम्बकेश्वर, केदारनाथ, घृष्णेश्वर। ज्योतिर्लिंग उत्पत्ति के संबंध में अनेकों मान्यताएं प्रचलित है। ज्योतिर्लिंग यानी ‘व्यापक ब्रह्मात्मलिंग’ जिसका अर्थ है ‘व्यापक प्रकाश’। जो शिवलिंग के बारह खंड हैं। शिवपुराण के अनुसार ब्रह्म, माया, जीव, मन, बुद्धि, चित्त, अहंकार, आकाश, वायु, अग्नि, जल और पृथ्वी को ज्योतिर्लिंग या ज्योति पिंड कहा गया है। दूसरी मान्यता अनुसार शिव पुराण के अनुसार प्राचीनकाल में आकाश से ज्योति पिंड पृथ्वी पर गिरे और उनसे थोड़ी देर के लिए प्रकाश फैल गया। इस तरह के अनेकों उल्का पिंड आकाश से धरती पर गिरे थे। भारत में गिरे अनेकों पिंडों में से प्रमुख बारह पिंड को ही ज्योतिर्लिंग में शामिल किया गया।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से तीस रहस्य शिवलिंग

वायु पुराण के अनुसार प्रलयकाल में समस्त सृष्टि जिसमें लीन हो जाती है और पुन: सृष्टिकाल में जिससे प्रकट होती है, उसे लिंग कहते हैं। इस प्रकार विश्व की संपूर्ण ऊर्जा ही लिंग की प्रतीक है। वस्तुत: यह संपूर्ण सृष्टि बिंदु-नाद स्वरूप है। बिंदु शक्ति है और नाद शिव। बिंदु अर्थात ऊर्जा और नाद अर्थात ध्वनि। यही दो संपूर्ण ब्रह्मांड का आधार है। इसी कारण प्रतीक स्वरूप शिवलिंग की पूजा-अर्चना है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से उनतीस रहस्य शिव ग्रंथ

वेद और उपनिषद सहित विज्ञान भैरव तंत्र, शिव पुराण और शिव संहिता में शिव की संपूर्ण शिक्षा और दीक्षा समाई हुई है। तंत्र के अनेक ग्रंथों में उनकी शिक्षा का विस्तार हुआ है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से अट्ठाईस रहस्य अमरनाथ के अमृत वचन

शिव ने अपनी अर्धांगिनी पार्वती को मोक्ष हेतु अमरनाथ की गुफा में जो ज्ञान दिया उस ज्ञान की आज अनेकानेक शाखाएं हो चली हैं। वह ज्ञानयोग और तंत्र के मूल सूत्रों में शामिल है। ‘विज्ञान भैरव तंत्र’ एक ऐसा ग्रंथ है, जिसमें भगवान शिव द्वारा पार्वती को बताए गए 112 ध्यान सूत्रों का संकलन है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से सत्ताईस रहस्य शिव के प्रमुख नाम

शिव के वैसे तो अनेक नाम हैं जिनमें 108 नामों का उल्लेख पुराणों में मिलता है लेकिन यहां प्रचलित नाम जानें- महेश, नीलकंठ, महादेव, महाकाल, शंकर, पशुपतिनाथ, गंगाधर, नटराज, त्रिनेत्र, भोलेनाथ, आदिदेव, आदिनाथ, त्रियंबक, त्रिलोकेश, जटाशंकर, जगदीश, प्रलयंकर, विश्वनाथ, विश्वेश्वर, हर, शिवशंभु, भूतनाथ और रुद्र।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से छब्बीस रहस्य शैव परम्परा

दसनामी, शाक्त, सिद्ध, दिगंबर, नाथ, लिंगायत, तमिल शैव, कालमुख शैव, कश्मीरी शैव, वीरशैव, नाग, लकुलीश, पाशुपत, कापालिक, कालदमन और महेश्वर सभी शैव परंपरा से हैं। चंद्रवंशी, सूर्यवंशी, अग्निवंशी और नागवंशी भी शिव की परंपरा से ही माने जाते हैं। भारत की असुर, रक्ष और आदिवासी जाति के आराध्य देव शिव ही हैं। शैव धर्म भारत के आदिवासियों का धर्म है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से पच्चीस रहस्य शिव महिमा

शिव ने कालकूट नामक विष पिया था जो अमृत मंथन के दौरान निकला था। शिव ने भस्मासुर जैसे कई असुरों को वरदान दिया था। शिव ने कामदेव को भस्म कर दिया था। शिव ने गणेश और राजा दक्ष के सिर को जोड़ दिया था। ब्रह्मा द्वारा छल किए जाने पर शिव ने ब्रह्मा का पांचवां सिर काट दिया था।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से चौबीस रहस्य शिव प्रचारक

भगवान शंकर की परंपरा को उनके शिष्यों बृहस्पति, विशालाक्ष (शिव), शुक्र, सहस्राक्ष, महेन्द्र, प्राचेतस मनु, भरद्वाज, अगस्त्य मुनि, गौरशिरस मुनि, नंदी, कार्तिकेय, भैरवनाथ आदि ने आगे बढ़ाया। इसके अलावा वीरभद्र, मणिभद्र, चंदिस, नंदी, श्रृंगी, भृगिरिटी, शैल, गोकर्ण, घंटाकर्ण, बाण, रावण, जय और विजय ने भी शैवपंथ का प्रचार किया। इस परंपरा में सबसे बड़ा नाम आदिगुरु भगवान दत्तात्रेय का आता है। दत्तात्रेय के बाद आदि शंकराचार्य, मत्स्येन्द्रनाथ और गुरु गुरुगोरखनाथ का नाम प्रमुखता से लिया जाता है।
 

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से तेईस रहस्य शिव व्रत और त्योहार

सोमवार, प्रदोष और श्रावण मास में शिव व्रत रखे जाते हैं। शिवरात्रि और महाशिवरात्रि शिव का प्रमुख पर्व त्योहार है।
 

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से बाईस रहस्य शिव मंत्र

दो ही शिव के मंत्र हैं पहला- ॐ नम: शिवाय। दूसरा महामृत्युंजय मंत्र- ॐ ह्रौं जू सः। ॐ भूः भुवः स्वः। ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्। उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात्। स्वः भुवः भूः ॐ। सः जू ह्रौं ॐ ॥ है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से इक्कीस रहस्य शिव ध्यान

शिव की भक्ति हेतु शिव का ध्यान-पूजन किया जाता है। शिवलिंग को बिल्वपत्र चढ़ाकर शिवलिंग के समीप मंत्र जाप या ध्यान करने से मोक्ष का मार्ग पुष्ट होता है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से बीस रहस्य शिव भक्त

ब्रह्मा, विष्णु और सभी देवी-देवताओं सहित भगवान राम और कृष्ण भी शिव भक्त है। हरिवंश पुराण के अनुसार, कैलास पर्वत पर कृष्ण ने शिव को प्रसन्न करने के लिए तपस्या की थी। भगवान राम ने रामेश्वरम में शिवलिंग स्थापित कर उनकी पूजा-अर्चना की थी

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से उन्नीस रहस्य तिब्बत स्थित कैलाश पर्वत

पर उनका निवास है। जहां पर शिव विराजमान हैं उस पर्वत के ठीक नीचे पाताल लोक है जो भगवान विष्णु का स्थान है। शिव के आसन के ऊपर वायुमंडल के पार क्रमश: स्वर्ग लोक और फिर ब्रह्माजी का स्थान है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से अठारह रहस्य शिव का विरोधाभासिक परिवार

शिवपुत्र कार्तिकेय का वाहन मयूर है, जबकि शिव के गले में वासुकि नाग है। स्वभाव से मयूर और नाग आपस में दुश्मन हैं। इधर गणपति का वाहन चूहा है, जबकि सांप मूषकभक्षी जीव है। पार्वती का वाहन शेर है, लेकिन शिवजी का वाहन तो नंदी बैल है। इस विरोधाभास या वैचारिक भिन्नता के बावजूद परिवार में एकता है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से सत्रह रहस्य शिव के अवतार

वीरभद्र, पिप्पलाद, नंदी, भैरव, महेश, अश्वत्थामा, शरभावतार, गृहपति, दुर्वासा, हनुमान, वृषभ, यतिनाथ, कृष्णदर्शन, अवधूत, भिक्षुवर्य, सुरेश्वर, किरात, सुनटनर्तक, ब्रह्मचारी, यक्ष, वैश्यानाथ, द्विजेश्वर, हंसरूप, द्विज, नतेश्वर आदि हुए हैं। वेदों में रुद्रों का जिक्र है। रुद्र 11 बताए जाते हैं- कपाली, पिंगल, भीम, विरुपाक्ष, विलोहित, शास्ता, अजपाद, आपिर्बुध्य, शंभू, चण्ड तथा भव।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से सोलह रहस्य शिव के पैरों के निशान

श्रीपद- श्रीलंका में रतन द्वीप पहाड़ की चोटी पर स्थित श्रीपद नामक मंदिर में शिव के पैरों के निशान हैं। ये पदचिह्न 5 फुट 7 इंच लंबे और 2 फुट 6 इंच चौड़े हैं। इस स्थान को सिवानोलीपदम कहते हैं। कुछ लोग इसे आदम पीक कहते हैं।
रुद्र पद- तमिलनाडु के नागपट्टीनम जिले के थिरुवेंगडू क्षेत्र में श्रीस्वेदारण्येश्वर का मंदिर में शिव के पदचिह्न हैं जिसे ‘रुद्र पदम’ कहा जाता है। इसके अलावा थिरुवन्नामलाई में भी एक स्थान पर शिव के पदचिह्न हैं।
तेजपुर- असम के तेजपुर में ब्रह्मपुत्र नदी के पास स्थित रुद्रपद मंदिर में शिव के दाएं पैर का निशान है।
जागेश्वर- उत्तराखंड के अल्मोड़ा से 36 किलोमीटर दूर जागेश्वर मंदिर की पहाड़ी से लगभग साढ़े 4 किलोमीटर दूर जंगल में भीम के मंदिर के पास शिव के पदचिह्न हैं। पांडवों को दर्शन देने से बचने के लिए उन्होंने अपना एक पैर यहां और दूसरा कैलाश में रखा था।
रांची- झारखंड के रांची रेलवे स्टेशन से 7 किलोमीटर की दूरी पर ‘रांची हिल’ पर शिवजी के पैरों के निशान हैं। इस स्थान को ‘पहाड़ी बाबा मंदिर’ कहा जाता है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से पंद्रह रहस्य शिव की गुफा

शिव ने भस्मासुर से बचने के लिए एक पहाड़ी में अपने त्रिशूल से एक गुफा बनाई और वे फिर उसी गुफा में छिप गए। वह गुफा जम्मू से 150 किलोमीटर दूर त्रिकूटा की पहाड़ियों पर है। दूसरी ओर भगवान शिव ने जहां पार्वती को अमृत ज्ञान दिया था वह गुफा ‘अमरनाथ गुफा’ के नाम से प्रसिद्ध है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से चौदह रहस्य शिव चिह्न

वनवासी से लेकर सभी साधारण व्यक्ति जिस चिह्न की पूजा कर सकें, उस पत्थर के ढेले, बटिया को शिव का चिह्न माना जाता है। इसके अलावा रुद्राक्ष और त्रिशूल को भी शिव का चिह्न माना गया है। कुछ लोग डमरू और अर्द्ध चन्द्र को भी शिव का चिह्न मानते हैं, हालांकि ज्यादातर लोग शिवलिंग अर्थात शिव की ज्योति का पूजन करते हैं।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से तेरह रहस्य देवता और असुर दोनों के प्रिय शिव

भगवान शिव को देवों के साथ असुर, दानव, राक्षस, पिशाच, गंधर्व, यक्ष आदि सभी पूजते हैं। वे रावण को भी वरदान देते हैं और राम को भी। उन्होंने भस्मासुर, शुक्राचार्य आदि कई असुरों को वरदान दिया था। शिव, सभी आदिवासी, वनवासी जाति, वर्ण, धर्म और समाज के सर्वोच्च देवता हैं।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से बारह रहस्य बौद्ध साहित्य के मर्मज्ञ

अंतरराष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त विद्वान प्रोफेसर उपासक का मानना है कि शंकर ने ही बुद्ध के रूप में जन्म लिया था। उन्होंने पालि ग्रंथों में वर्णित 27 बुद्धों का उल्लेख करते हुए बताया कि इनमें बुद्ध के 3 नाम अतिप्राचीन हैं- तणंकर, शणंकर और मेघंकर।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से ग्यारहवाँ रहस्य सभी धर्मों का केंद्र शिव

शिव की वेशभूषा ऐसी है कि प्रत्येक धर्म के लोग उनमें अपने प्रतीक ढूंढ सकते हैं। मुशरिक, यजीदी, साबिईन, सुबी, इब्राहीमी धर्मों में शिव के होने की छाप स्पष्ट रूप से देखी जा सकती है। शिव के शिष्यों से एक ऐसी परंपरा की शुरुआत हुई, जो आगे चलकर शैव, सिद्ध, नाथ, दिगंबर और सूफी संप्रदाय में विभक्त हो गई।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से दसवां रहस्य शिव पार्षद

जिस तरह जय और विजय विष्णु के पार्षद हैं उसी तरह बाण, रावण, चंड, नंदी, भृंगी आदि शिव के पार्षद हैं।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से नोवा रहस्य शिव के द्वारपाल

नंदी, स्कंद, रिटी, वृषभ, भृंगी, गणेश, उमा-महेश्वर और महाकाल।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से आठवाँ रहस्य शिव पंचायत

भगवान सूर्य, गणपति, देवी, रुद्र और विष्णु ये शिव पंचायत कहलाते हैं।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से सातवाँ रहस्य शिव के गण

शिव के गणों में भैरव, वीरभद्र, मणिभद्र, चंदिस, नंदी, श्रृंगी, भृगिरिटी, शैल, गोकर्ण, घंटाकर्ण, जय और विजय प्रमुख हैं। इसके अलावा, पिशाच, दैत्य और नाग-नागिन, पशुओं को भी शिव का गण माना जाता है। शिवगण नंदी ने ही ‘कामशास्त्र’ की रचना की थी। ‘कामशास्त्र’ के आधार पर ही ‘कामसूत्र’ लिखा गया।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से छठवां रहस्य शिव के शिष्य

शिव के 7 शिष्य हैं जिन्हें प्रारंभिक सप्तऋषि माना गया है। इन ऋषियों ने ही शिव के ज्ञान को संपूर्ण धरती पर प्रचारित किया जिसके चलते भिन्न-भिन्न धर्म और संस्कृतियों की उत्पत्ति हुई। शिव ने ही गुरु और शिष्य परंपरा की शुरुआत की थी। शिव के शिष्य हैं- बृहस्पति, विशालाक्ष, शुक्र, सहस्राक्ष, महेन्द्र, प्राचेतस मनु, भरद्वाज इसके अलावा 8वें गौरशिरस मुनि भी थे।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से पांचवां रहस्य शिव के पुत्र

शिव के प्रमुख 6 पुत्र हैं- गणेश, कार्तिकेय, सुकेश, जलंधर, अयप्पा और भूमा। सभी के जन्म की कथा रोचक है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से चौथा रहस्य शिव की अर्द्धांगिनी

शिव की पहली पत्नी सती ने ही अगले जन्म में पार्वती के रूप में जन्म लिया और वही उमा, उर्मि, काली कही गई हैं।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से तीसरा रहस्य शिव का नाग

शिव के गले में जो नाग लिपटा रहता है उसका नाम वासुकि है। वासुकि के बड़े भाई का नाम शेषनाग है।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से दुसरा रहस्य शिव के अस्त्र-शस्त्र

शिव का धनुष पिनाक, चक्र भवरेंदु और सुदर्शन, अस्त्र पाशुपतास्त्र और शस्त्र त्रिशूल है। उक्त सभी का उन्होंने ही निर्माण किया था।

भगवान शिव के 35 रहस्य मैं से पहला रहस्य आदिनाथ शिव

सर्वप्रथम शिव ने ही धरती पर जीवन के प्रचार-प्रसार का प्रयास किया इसलिए उन्हें ‘आदिदेव’ भी कहा जाता है। ‘आदि’ का अर्थ प्रारंभ। आदिनाथ होने के कारण उनका एक नाम ‘आदिश’ भी है।

शनिवार को जन्म हुये जातक के स्वभाव पर प्रभाव

जिस व्यक्ति का जन्म शनिवार को होता है

उस व्यक्ति का स्वभाव कठोर होता है .

ये पराक्रमी परिश्रमी होते हैं.

अगर इनके ऊपर दु: भी आये तो ये उसे भी सहना जानते हैं.

ये न्यायी एवं गंभीर स्वभाव के होते हैं. सेवा करना इन्हें काफी पसंद होता है.

 

सप्ताह में कुल सात दिन या सात वार होते है.

हम सभी लोगों का जन्म इन सातों वारों में से किसी एक वार को हुआ है।

ज्योतिषशास्त्र कहता हैं, वार का हमारे व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

हमारा जन्म जिस वार में होता है उस वार के प्रभाव से हमारा व्यवहार और चरित्र भी प्रभावित होता है.

आइये देखें कि किस वार में जन्म लेने पर व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है.

 

                           Www,Allso.In
                      A Platfrom For Astrologer  

World's Largest Platform For Astrologers, Vastushastri And Occult-Science


We Are Providing World`S Largest Platform. For Astrologers,

VastuShastri, Palmist, Tarot Card Reader, Purohits, Vedic Brahmins,

Spiritual Consultants, Dharmshastracharya, Vyakaranacharya,

Puranacharya, Bhagvatacharya Etc.

शुक्रवार को जन्म हुये जातक के स्वभाव पर प्रभाव

जिस व्यक्ति का जन्म शुक्रवार को होता है

वह व्यक्ति चंचल स्वभाव का होता है .

ये सांसारिक सुखों में लिप्त रहने वाले होते हैं.

ये तर्क करने में निपुण और नैतिकता में बढ़ चढ कर होते हैं.

ये धनवान और कामदेव के गुणों से प्रभावित रहते हैं .

इनकी बुद्धि तीक्ष्ण होती है. ये ईश्वर की सत्ता में अंधविश्वास नहीं रखते हैं.

 

सप्ताह में कुल सात दिन या सात वार होते है.

हम सभी लोगों का जन्म इन सातों वारों में से किसी एक वार को हुआ है।

ज्योतिषशास्त्र कहता हैं, वार का हमारे व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

हमारा जन्म जिस वार में होता है उस वार के प्रभाव से हमारा व्यवहार और चरित्र भी प्रभावित होता है.

आइये देखें कि किस वार में जन्म लेने पर व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है.

 

                           Www,Allso.In
                      A Platfrom For Astrologer  

World's Largest Platform For Astrologers, Vastushastri And Occult-Science


We Are Providing World`S Largest Platform. For Astrologers,

VastuShastri, Palmist, Tarot Card Reader, Purohits, Vedic Brahmins,

Spiritual Consultants, Dharmshastracharya, Vyakaranacharya,

Puranacharya, Bhagvatacharya Etc.

बृहस्पतिवार को जन्म हुये जातक के स्वभाव पर प्रभाव

बृहस्पतिवार सप्ताह का पांचवा दिन होता है.

इसे गुरूवार भी कहा जाता है. इस वार को जिनका जन्म होता है,

वे विद्या एवं धन से युक्त होता है अर्थात ये ज्ञानी और धनवान होते हैं.

ये विवेकशील होते हैं और शिक्षण को अपना पेशा बनाना पसंद करते हैं.

ये लोगों के सम्मुख आदर और सम्मान के साथ प्रस्तुत होते हैं.

ये सलाहकार भी उच्च स्तर के होते हैं.

सप्ताह में कुल सात दिन या सात वार होते है.

हम सभी लोगों का जन्म इन सातों वारों में से किसी एक वार को हुआ है।

ज्योतिषशास्त्र कहता हैं, वार का हमारे व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

हमारा जन्म जिस वार में होता है उस वार के प्रभाव से हमारा व्यवहार और चरित्र भी प्रभावित होता है.

आइये देखें कि किस वार में जन्म लेने पर व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है.

 

                           Www,Allso.In
                      A Platfrom For Astrologer  

World's Largest Platform For Astrologers, Vastushastri And Occult-Science


We Are Providing World`S Largest Platform. For Astrologers,

VastuShastri, Palmist, Tarot Card Reader, Purohits, Vedic Brahmins,

Spiritual Consultants, Dharmshastracharya, Vyakaranacharya,

Puranacharya, Bhagvatacharya Etc.

बुध वार को जन्म हुये जातक के स्वभाव पर प्रभाव

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार बुधवार को जन्म लेने वाले व्यक्ति मधुर वचन बोलने वाले होते हैं .

इस तिथि के जातक पठन पाठन में रूचि लेते हैं और ज्ञानी होते हैं.

ये लेखन में रूचि लेते हैं और अधिकांशत: इसे अपनी जीवका बनाते हैं.

ये अपने विषय के अच्छे जानकार होते हैं. इनके पास सम्पत्ति होती है परंतु ये धोखा देने में भी आगे होते हैं.

सप्ताह में कुल सात दिन या सात वार होते है.

हम सभी लोगों का जन्म इन सातों वारों में से किसी एक वार को हुआ है।

ज्योतिषशास्त्र कहता हैं, वार का हमारे व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

हमारा जन्म जिस वार में होता है उस वार के प्रभाव से हमारा व्यवहार और चरित्र भी प्रभावित होता है.

आइये देखें कि किस वार में जन्म लेने पर व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है.

 

                           Www,Allso.In
                      A Platfrom For Astrologer  

World's Largest Platform For Astrologers, Vastushastri And Occult-Science


We Are Providing World`S Largest Platform. For Astrologers,

VastuShastri, Palmist, Tarot Card Reader, Purohits, Vedic Brahmins,

Spiritual Consultants, Dharmshastracharya, Vyakaranacharya,

Puranacharya, Bhagvatacharya Etc.

मंगलवार को जन्म हुये जातक के स्वभाव पर प्रभाव

मंगलवार को जिस व्यक्ति का जन्म होता है वह व्यक्ति जटिल बुद्धि वाला होता है,

ये किस भी बातको आसानी से नहीं मानते हैं और सभी बातों में इन्हें कुछ कुछ खोट दिखाई देता है.

ये युद्ध प्रेमी और पराक्रमी होते हैं. ये अपनी बातो पर कायम रहने वाले होते हैं.

जरूरत पड़ने पर इस तिथि के जातक हिंसा पर भी उतर आते हैं.

इनके स्वभाव की एक बड़ी विशेषता है कि ये अपने कुटुम्बों का पूरा ख्याल रखते हैं.

 

सप्ताह में कुल सात दिन या सात वार होते है.

हम सभी लोगों का जन्म इन सातों वारों में से किसी एक वार को हुआ है।

ज्योतिषशास्त्र कहता हैं, वार का हमारे व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

हमारा जन्म जिस वार में होता है उस वार के प्रभाव से हमारा व्यवहार और चरित्र भी प्रभावित होता है.

आइये देखें कि किस वार में जन्म लेने पर व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है.

 

                           Www,Allso.In
                      A Platfrom For Astrologer  

World's Largest Platform For Astrologers, Vastushastri And Occult-Science


We Are Providing World`S Largest Platform. For Astrologers,

VastuShastri, Palmist, Tarot Card Reader, Purohits, Vedic Brahmins,

Spiritual Consultants, Dharmshastracharya, Vyakaranacharya,

Puranacharya, Bhagvatacharya Etc.

सोमवार को जन्म हुये जातक के स्वभाव पर प्रभाव

 

सोमवार यानी सप्ताह का दूसरा दिन, इस वार को जन्म लेने वाला व्यक्ति बुद्धिमान होता है .

इनकी प्रकृति यानी इनका स्वभाव शांत होता है. इनकी वाणी मधुर और मोहित करने वाली होती है.

ये स्थिर स्वभाव वाले होते हैं सुख हो या दु: सभी स्थिति में ये समान रहते हैं.

धन के मामले में भी ये भाग्यशाली होते हैं. इन्हें सरकार समाज से मान सम्मान मिलता है

सप्ताह में कुल सात दिन या सात वार होते है.

हम सभी लोगों का जन्म इन सातों वारों में से किसी एक वार को हुआ है।

ज्योतिषशास्त्र कहता हैं, वार का हमारे व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

हमारा जन्म जिस वार में होता है उस वार के प्रभाव से हमारा व्यवहार और चरित्र भी प्रभावित होता है.

आइये देखें कि किस वार में जन्म लेने पर व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है.

                www,Allso.in
                      A Platfrom For Astrologer  

World's Largest Platform For Astrologers, Vastushastri And Occult-science


We Are Providing World`s Largest Platform. For Astrologers,

VastuShastri, Palmist, Tarot Card Reader, Purohits, Vedic Brahmins,

Spiritual Consultants, Dharmshastracharya, Vyakaranacharya,

Puranacharya, Bhagvatacharya Etc.

रविवार को जन्म हुये जातक के स्वभाव पर प्रभाव

 

सप्ताह में कुल सात दिन या सात वार होते है. हम सभी लोगों का जन्म इन सातों वारों में से किसी एक वार को हुआ है।

ज्योतिषशास्त्र कहता हैं, वार का हमारे व्यक्तित्व पर गहरा प्रभाव पड़ता है. हमारा जन्म जिस वार में होता है

उस वार के प्रभाव से हमारा व्यवहार और चरित्र भी प्रभावित होता है.

आइये देखें कि किस वार में जन्म लेने पर व्यक्ति का स्वभाव कैसा होता है.

 

रविवार सप्ताह का प्रथम दिन होता है. इसे सूर्य का दिन माना जाता है.

इस दिन जिस व्यक्ति का जन्म होता है वे व्यक्ति तेजस्वी, गर्वीले और पित्त प्रकृति के होते है .

इनके स्वभाव में क्रोध और ओज भरा होता है. ये चतुर और गुणवान होते हैं. इस तिथि के जातक उत्साही और दानी होते हैं.

अगर संघर्ष की स्थिति पैदा हो जाए तो उसमें पूरी तकत लगा देते हैं.

मूलाधार, (संस्कृत: मूलाधार, Mūlādhāra) बेस या रूट चक्र (मेरूदंड की अंतिम हड्डी *कोक्सीक्स*)

मूलाधार या मूल चक्र प्रवृत्ति, सुरक्षा, अस्तित्व और मानव की मौलिक क्षमता से संबंधित है।

 
यह शरीर का पहला चक्र है।

 
यह केंद्र गुप्तांग और गुदा के बीच चार पंखुरियों वाला यह 'आधार चक्र' है।

अवस्थित होता है। हालांकि यहां कोई अंत:स्रावी अंग नहीं होता, कहा जाता है

यह जनेनद्रिय और अधिवृक्क मज्जा से जुड़ा होता है

99.9% लोगों की चेतना इसी चक्र पर अटकी रहती है

और अस्तित्व जब खतरे में होता है तो मरने या मारने का दायित्व इसी का होता है। और वे इसी चक्र में रहकर मर जाते हैं।

इस क्षेत्र में एक मांसपेशी होती है,

जहां जनन संहिता और कुंडलिनी कुंडली बना कर रहता है।

 
मूलाधार का प्रतीक लाल रंग और चार पंखुडिय़ों वाला कमल है।

 
इसका मुख्य विषय काम—वासना, लालसा और सनक में निहित है।

 

शारीरिक रूप से मूलाधार काम-वासना को, मानसिक रूप से स्थायित्व को, भावनात्मक रूप से इंद्रिय सुख को और आध्यात्मिक रूप से सुरक्षा की भावना को नियंत्रित करता है।

 
जिनके जीवन में भोग, संभोग और निद्रा की प्रधानता है उनकी ऊर्जा इसी चक्र के आसपास एकत्रित रहती है।

 
चक्र जगाने की विधि : मनुष्य तब तक पशुवत है, जब तक कि वह इस चक्र में जी रहा है इसीलिए

भोग, निद्रा और संभोग पर संयम रखते हुए इस चक्र पर लगातार ध्यािन लगाने से यह चक्र जाग्रत होने लगता है। इसको जाग्रत करने का दूसरा नियम है यम और नियम का पालन करते हुए साक्षी भाव में रहना।

Mantara

lamnamaha

प्रभाव :

इस चक्र के जाग्रत होने पर व्यक्ति के भीतर वीरता, निर्भीकता और आनंद का भाव जाग्रत हो जाता है।

सिद्धियां प्राप्त करने के लिए वीरता, निर्भीकता और जागरूकता का होना जरूरी है।

 स्वाधिष्ठान च्रक - कमिटमेंट और साहस बढ़ाता है

    
स्वाधिष्ठान चक्र त्रिकास्थि (कमर के पीछे की तिकोनी हड्डी) में अवस्थित होता है 

यह वह चक्र है, जो लिंग मूल से चार अंगुल ऊपर स्थित है जिसकी छ: पंखुड़ियां हैं।

और अंडकोष या अंडाश्य के परस्पर के मेल से विभिन्न तरह का यौन अंत:स्राव उत्पन्न करता है, 

जो प्रजनन चक्र से जुड़ा होता है। 

स्वाधिष्ठान को आमतौर पर मूत्र तंत्र और अधिवृक्कसे संबंधित भी माना जाता है।

 त्रिक चक्र का प्रतीक छह पंखुडिय़ों और उससे परस्पर जुदा नारंगी रंग का एक कमल है। 

स्वाधिष्ठान का मुख्य विषय संबंध, हिंसा, व्यसनों, मौलिक भावनात्मक आवश्यकताएं और सुख है। 
अगर आपकी ऊर्जा इस चक्र पर ही एकत्रित है तो आपके जीवन में आमोद-प्रमोद, मनोरंजन, घूमना-फिरना और मौज-मस्ती करने की प्रधानता रहेगी।
शारीरिक रूप से स्वाधिष्ठान प्रजनन, 

मानसिक रूप से रचनात्मकता, भावनात्मक रूप से खुशी और 
आध्यात्मिक रूप से उत्सुकता को नियंत्रित करता है।

यह सब करते हुए ही आपका जीवन कब व्यतीत हो जाएगा आपको पता भी नहीं चलेगा और हाथ फिर भी खाली रह जाएंगे।

VAM NAMAHA

कैसे जाग्रत करें :
जीवन में मनोरंजन जरूरी है, लेकिन मनोरंजन की आदत नहीं। 
मनोरंजन भी व्यक्ति की चेतना को बेहोशी में धकेलता है। 
फिल्म सच्ची नहीं होती लेकिन उससे जुड़कर आप जो अनुभव करते हैं वह आपके बेहोश जीवन जीने का प्रमाण है।
 नाटक और मनोरंजन सच नहीं होते।

प्रभाव :
इसके जाग्रत होने पर क्रूरता, गर्व, आलस्य, प्रमाद, अवज्ञा, अविश्वास आदि दुर्गणों का नाश 
होता है।

सिद्धियां प्राप्त करने के लिए जरूरी है कि उक्त सारे दुर्गुण समाप्त हो तभी सिद्धियां आपका द्वार खटखटाएंगी।
 

घर की खिड़की अगर गलत दिशा में होगी तो होगा सब कुछ गलत,  जानिए वस्तु के 12 टिप्स


घर की खिड़की किस दिशा में और कैसी होना चाहिए इसका वास्तुशास्त्र में उल्लेख मिलता है। खिड़की के सही दिशा में होने से भाग्य खुल जाता है और गलत दिशा में होने से भाग्य बंद भी हो सकता है। जिस खिड़की से हवा आती है उस खिड़की से मुसीबतें भी आ सकती है। जिस खिड़की से प्रकाश आता है उसी खिड़की से अंधेरा भी आता है। अत: खिड़की का वास्तुशास्त्र के अनुसार होना चाहिए। आओ जानते है वास्तु के 12 टिप्स।

1. पश्चिमी, पूर्वी और उत्तरी दीवारों पर खिड़कियों का निर्माण शुभ माना गया है।

2. उत्तर दिशा में खिड़की होने से घर में धन और समृद्धि के द्वारा खुल जाते हैं।

3. दक्षिण दिशा में खिड़की होने से रोग और शोक की संभावना बढ़ जाती है, क्योंकि यह यम की दिशा होती है।

4. घर की दक्षिण दिशा की खिड़की शुभ नहीं होती, यदि है तो उस पर मोटा पर्दा लगा दें। नैऋत्य कोण में भी खिड़की नहीं होना चाहिए।

5. खिड़कियां कभी भी घर के सन्धि भाग में न बनवाएं।

6. मकान में खिड़कियां द्वार के सामने अधिकाधिक होनी चाहिए, ताकि चुम्बकीय चक्र पूर्ण होता रहे।

7. वास्तु के अनुसार मकान में खिड़कियों की संख्या बराबर होनी चाहिए। अर्थात सम संख्या में होना चाहिए।

8. खिड़की को भी अच्छे से सजाकर और पर्दे से ढंकी हुई रखें। खिड़की के आसपास बेलबुटे वाले चित्र होना चाहिए या रांगोली या मंडने वाली चित्रकारी होना चाहिए।

9. घर की सभी खिड़की व दरवाजे एक समान ऊंचाई पर होने चाहिए।

10. उत्तर का दरवाजा हमेशा लाभकारी होता है। इस दिशा में घर के सबसे ज्यादा खिड़की, बालकनी और दरवाजे होना चाहिए। उत्तर दिशा का द्वार समृद्धि, प्रसिद्ध और प्रसन्नता लेकर आता है।

11. खिड़किया दो पल्ले वाली होना चाहिए और इन्हें खोलने एवं बंद करने में आवाज नहीं होना चाहिए। पल्ले अंदर की ओर खुलना चाहिए बाहर की ओर नहीं।

12. खिड़कियां टूटी हुई, गंदी या आड़ी-तिरझी बनी हुई नहीं होना भी अशुभ है ।

Largest Get To Gathering Of Astrologer

Hello my All Friends & Astro mitra.
there Is On 3rd Dec 2023 In Delhi Allso.in Presents Largest Astreolologer Get To Gather Function Plz Wellcome.

Number 4 Meaning in Numerology

नंबर 4 बचाव के लिए है। अंकज्योतिष में 4 जीवन और कार्य के प्रति बिना सोचे-समझे दृष्टिकोण रखने वाला एक निरर्थक अंक है। यह बेहद भरोसेमंद है और किसी व्यक्ति या स्थिति को काफी हद तक स्थिरता प्रदान करता है। 4 आगे बढ़ने के लिए समर्पित है, लेकिन प्रगतिशील की तुलना में अधिक रूढ़िवादी तरीके से। यह नए तरीकों को आजमाने के बजाय जो आजमाया हुआ है उस पर कायम रहता है। कुछ एशियाई देशों में संख्या 4 को बहुत अशुभ माना जाता है। अंक ज्योतिष संख्या में 4 एक बुद्धिमान और तर्कसंगत ऊर्जा होती है जो हमें सुरक्षा और निरंतरता की भावना दिला सकती है। अंक 4 अपने दिमाग से नेतृत्व करता है, दिल से नहीं, और इस मानसिक शक्ति का उपयोग सेवा और संतुष्टि का जीवन बनाने के लिए करता है।

कार्तिक मास का महत्व

कार्तिक मास में तुलसी की पूजा का भी बहुत खास महत्व बताया गया है। तुलसी का पौधा भगवान विष्णु को बहुत ही प्रिय है। इस महीने में नियमित रूप से तुलसी की पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं। कार्तिक मास में पूजा पाठ और उपवास करने से मनुष्य को वैभव की प्राप्ति होती है। इसके अलावा जो भी मनुष्य इस महीने में नियमित रूप से पूजा पाठ करता है और भगवान् विष्णु को तुलसी के पत्ते अर्पित करता है उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है। कार्तिक मास में श्रद्धा पूर्वक पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और मनुष्य के सभी रोग दूर हो जाते हैं और उनके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होती है।