loder gif of Dr. Sunita N. Joshi profile | ALLSO-Best Astrologer In India

know about me

HAPPINESS THROUGH DIVINE HEALING 

ASTROLOGY / VASTU SHASTRI / NUMEROLOGY / GEOPATHIC STRESS MANAGEMENTS / PALMISTRY / TAROT CARD READING / DOWSING REIKI HEALING ANGEL HEALING / PAST LIFE REGRESSION THERAPIST / MEDITATION / RAMAL SHASTRA / CHAKRA HEALING & BALANCING GEMS RUDRAX - CRYSTAL THERAPY  .

 

Contact Our Expert Astrologers

+ (91) 9823216544

read more

Why Choose Us

We Provide to You Best Pridication for Your Life for live Easier And Happy...

1+
00+

Live Chat

00+

Video Call

87+

Total Visitors

Awards & Achivement

" An Award Recognizing Your Talent Is An Honor. That Matters A Lot To Me. My Biggest
Achievement More Than Any Award Is Contributing A Knowledge To Others. "

WORKSHOP CERTIFICATE

DOCTOR OF PHILOSOPHY

CERTIFICATE OF UNIQUE WORLD RECORD

JYOTISH SHASTRI

CERTIFICATE OF RECOGNITION

SAMMAN PATRA

CERTIFICATE OF ACHIEVEMENT

PYRAMID VASTU

Inquiry Now

Fill Form And Contact Us For Get Your Best Predication

  • Name

  • Email

  • mobile number

  • Message

our services

" Get A Consultation Call With Some Of The Best Astrologers In The Country Who Have Resolved Thousands Of Problems And Changed
The Lives Of Everyone They Have Talked To. A Call That Can Change You Life, Forever. "

What Our Customers Say

Here You Can Get Astrolgers Best Reviews, And You Can Give A Review To The Astrologers..

Astro News

ALLSO Providing Astro News For All Occult Services

Our Latest Blog

Here You Can Read Blogs Related Astrology, vastushastri , Zodic, Numberology etc.

My video

" Here You Can See Honoreable Astrologers Gallary..."

My Latest Products

Here You Can Buy Astrology,vastushastri products for your life happy

1 mukhi Rudraksha(1.0)

1 mukhi Rudraksha(1.0)

₹1100
₹ 1900
1 Mukhi Rudraksha (2.0)

1 Mukhi Rudraksha (2.0)

₹1300
₹ 2200
1 Mukhi Rudraksha (3.0)

1 Mukhi Rudraksha (3.0)

₹1500
₹ 2500
1 Mukhi Rudraksha (4.0)

1 Mukhi Rudraksha (4.0)

₹1700
₹ 2850
1 Mukhi Rudraksha (5.0)

1 Mukhi Rudraksha (5.0)

₹1900
₹ 3200
1 Mukhi Rudraksha(6.0)

1 Mukhi Rudraksha(6.0)

₹3500
₹ 4000
10 Mukhi Rudraksh (1.0)

10 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹5500
₹ 6000
10 Mukhi Rudraksh (2.0)

10 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹8500
₹ 9000
10 Mukhi Rudraksh (3.0)

10 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹11000
₹ 13000
10 Mukhi Rudraksh(4.0)

10 Mukhi Rudraksh(4.0)

₹4000
₹ 5000
10 Mukhi Rudraksh (5.0)

10 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹6800
₹ 7000
10 Mukhi Rudraksh (6.0)

10 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹7300
₹ 7500
7 Chakra

7 Chakra

₹513
₹ 570
Atethyst

Atethyst

₹513
₹ 570
Ath Shree Janam Patrika

Ath Shree Janam Patrika

₹6795
₹ 7551
Bagalamukhi Yantra

Bagalamukhi Yantra

₹180
₹ 300
Bagalamukhi Yantra

Bagalamukhi Yantra

₹1111
₹ 1500
Bhagya Laxmi Pyra Card

Bhagya Laxmi Pyra Card

₹2250
₹ 3150
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹210
₹ 350
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹1111
₹ 1300
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹750
₹ 1000
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹2100
₹ 2500
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹1050
₹ 1500
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹3100
₹ 3500
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹1400
₹ 2000
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹3600
₹ 4000
Bhu Prushth Shree Yantra

Bhu Prushth Shree Yantra

₹1400
₹ 2000
BhuPrushth ShreeYantra

BhuPrushth ShreeYantra

₹4151
₹ 4500
Black Turmlin

Black Turmlin

₹510
₹ 600
Guru Yantra (copper)

Guru Yantra (copper)

₹251
₹ 400
Guru Yantra (Copper)

Guru Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Budh Yantra (Copper)

Budh Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Budh Yantra (Copper)

Budh Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Chandra Yantra (copper)

Chandra Yantra (copper)

₹251
₹ 400
Chandra Yantra (Copper)

Chandra Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Ketu Yantra (Copper)

Ketu Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Ketu Yantra (Copper)

Ketu Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Mangal Yantra (Copper)

Mangal Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Mangal Yantra (Copper)

Mangal Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Rahu Yantra (copper)

Rahu Yantra (copper)

₹251
₹ 400
Rahu Yantra (Copper)

Rahu Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Sani Yantra (Copper)

Sani Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Sani Yantra (Copper)

Sani Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Shukra Yantra (Copper)

Shukra Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Shukra Yantra (Copper)

Shukra Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Surya Yantra (Copper)

Surya Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
Surya Yantra (Copper)

Surya Yantra (Copper)

₹251
₹ 400
11 Mukhi Rudraksh (1.0)

11 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹6000
₹ 6500
11 Mukhi Rudraksh (2.0)

11 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹9000
₹ 9500
11 Mukhi Rudraksh (3.0)

11 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹11500
₹ 12000
11 Mukhi Rudraksh (4.0)

11 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹5400
₹ 6000
11 Mukhi Rudraksh (5.0)

11 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹8500
₹ 9000
11 Mukhi Rudraksh (6.0)

11 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹10100
₹ 11000
12 Mukhi Rudraksh (1.0)

12 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹7500
₹ 8000
12 Mukhi Rudraksh (2.0)

12 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹11000
₹ 12000
12 Mukhi Rudraksh (3.0)

12 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹15000
₹ 16000
12 Mukhi Rudraksh (4.0)

12 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹6400
₹ 6700
12 Mukhi Rudraksh (5.0)

12 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹9700
₹ 10000
12 Mukhi Rudraksh (6.0)

12 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹13600
₹ 14000
13 Mukhi Rudraksh (1.0)

13 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹11000
₹ 12000
13 Mukhi Rudraksh (2.0)

13 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹16000
₹ 17000
13 Mukhi Rudraksh (3.0)

13 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹21000
₹ 22000
13 Mukhi Rudraksh (4.0)

13 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹8500
₹ 9000
13 Mukhi Rudraksh (5.0)

13 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹13500
₹ 14000
13 Mukhi Rudraksh (6.0)

13 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹18500
₹ 20000
14 Mukhi Rudraksh (1.0)

14 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹25000
₹ 26000
14 Mukhi Rudraksh (2.0)

14 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹31000
₹ 32000
14 Mukhi Rudraksh (3.0)

14 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹21000
₹ 22000
14 Mukhi Rudraksh (4.0)

14 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹22500
₹ 24000
14 Mukhi Rudraksh (5.0)

14 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹28500
₹ 30000
14 Mukhi Rudraksh (6.0)

14 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹37500
₹ 39500
2 Mukhi Rudraksh (1.0)

2 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹1100
₹ 1500
2 Mukhi Rudraksh (2.0)

2 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹1700
₹ 2000
2 Mukhi Rudraksh (3.0)

2 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹1800
₹ 2000
2 Mukhi Rudraksh (4.0)

2 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹850
₹ 1000
2 Mukhi Rudraksh (5.0)

2 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹1450
₹ 1600
2 Mukhi Rudraksh (6.0)

2 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹1550
₹ 1700
3 Mukhi Rudraksh (1.0)

3 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹1200
₹ 1500
3 Mukhi Rudraksh (2.0)

3 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹1500
₹ 1800
3 Mukhi Rudraksh (3.0)

3 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹1800
₹ 2000
3 Mukhi Rudraksh (4.0)

3 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹900
₹ 1000
3 Mukhi Rudraksh (5.0)

3 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹1250
₹ 1400
3 Mukhi Rudraksh (6.0)

3 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹1650
₹ 1800
4 Mukhi Rudraksh (1.0)

4 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹1000
₹ 1200
4 Mukhi Rudraksh (2.0)

4 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹1400
₹ 1600
4 Mukhi Rudraksh (3.0)

4 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹1900
₹ 2100
4 Mukhi Rudraksh (4.0)

4 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹600
₹ 899
4 Mukhi Rudraksh (5.0)

4 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹1150
₹ 1399
4 Mukhi Rudraksh (6.0)

4 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹1550
₹ 1700
5 Mukhi Rudraksh (1.0)

5 Mukhi Rudraksh (1.0)

₹11
₹ 199
5 Mukhi Rudraksh (2.0)

5 Mukhi Rudraksh (2.0)

₹151
₹ 251
5 Mukhi Rudraksh (3.0)

5 Mukhi Rudraksh (3.0)

₹225
₹ 299
5 Mukhi Rudraksh (4.0)

5 Mukhi Rudraksh (4.0)

₹250
₹ 349
5 Mukhi Rudraksh (5.0)

5 Mukhi Rudraksh (5.0)

₹121
₹ 199
5 Mukhi Rudraksh (6.0)

5 Mukhi Rudraksh (6.0)

₹200
₹ 299
6 Mukhi Rudraksha (1.0)

6 Mukhi Rudraksha (1.0)

₹100
₹ 199
6 Mukhi Rudraksha (2.0)

6 Mukhi Rudraksha (2.0)

₹200
₹ 350
6 Mukhi Rudraksha (3.0)

6 Mukhi Rudraksha (3.0)

₹300
₹ 450
6 Mukhi Rudraksha (4.0)

6 Mukhi Rudraksha (4.0)

₹80
₹ 125
6 Mukhi Rudraksha (5.0)

6 Mukhi Rudraksha (5.0)

₹150
₹ 225

Pooja

" Here You Can Get All Pooja Which Is Done By Astrolgers
To Know More About All Pooja's Click View More Button.."

Daily Planetary Overview

Here You Can See Daily Updates For Any Event, Astrology, Your Life

मूलाधार चक्र {बेस या रूट चक्र }

 

मूलाधार, (संस्कृतमूलाधार, Mūlādhāra) बेस या रूट चक्र (मेरूदंड की अंतिम हड्डी *कोक्सीक्स*)

मूलाधार या मूल चक्र प्रवृत्ति, सुरक्षा, अस्तित्व और मानव की मौलिक क्षमता से संबंधित है।

 

यह शरीर का पहला चक्र है।

 

 यह केंद्र गुप्तांग और गुदा के बीच चार पंखुरियों वाला यह 'आधार चक्र' है।

 

अवस्थित होता है। हालांकि यहां कोई अंत:स्रावी अंग नहीं होता, कहा जाता है

यह जनेनद्रिय और अधिवृक्क मज्जा से जुड़ा होता है

99.9% लोगों की चेतना इसी चक्र पर अटकी रहती है

और अस्तित्व जब खतरे में होता है तो मरने या मारने का दायित्व इसी का होता है। और वे इसी चक्र में रहकर मर जाते हैं।

 इस क्षेत्र में एक मांसपेशी होती है,

जहां जनन संहिता और कुंडलिनी कुंडली बना कर रहता है।

 

मूलाधार का प्रतीक लाल रंग और चार पंखुडिय़ों वाला कमल है।

 

इसका मुख्य विषय कामवासना, लालसा और सनक में निहित है।

 

 शारीरिक रूप से मूलाधार काम-वासना को, मानसिक रूप से स्थायित्व को, भावनात्मक रूप से इंद्रिय सुख को और आध्यात्मिक रूप से सुरक्षा की भावना को नियंत्रित करता है।

 

जिनके जीवन में भोग, संभोग और निद्रा की प्रधानता है उनकी ऊर्जा इसी चक्र के आसपास एकत्रित रहती है।

 

 

चक्र जगाने की विधि : मनुष्य तब तक पशुवत है, जब तक कि वह इस चक्र में जी रहा है इसीलिए

भोग, निद्रा और संभोग पर संयम रखते हुए इस चक्र पर लगातार ध्यािन लगाने से यह चक्र जाग्रत होने लगता है। इसको जाग्रत करने का दूसरा नियम है यम और नियम का पालन करते हुए साक्षी भाव में रहना।

Mantara

lamnamaha

प्रभाव :

इस चक्र के जाग्रत होने पर व्यक्ति के भीतर वीरता, निर्भीकता और आनंद का भाव जाग्रत हो जाता है।

सिद्धियां प्राप्त करने के लिए वीरता, निर्भीकता और जागरूकता का होना जरूरी है।

View More

घर की खिड़की अगर गलत दिशा में होगी तो होगा सब कुछ गलत,  जानिए वस्तु के 12 टिप्स


घर की खिड़की किस दिशा में और कैसी होना चाहिए इसका वास्तुशास्त्र में उल्लेख मिलता है। खिड़की के सही दिशा में होने से भाग्य खुल जाता है और गलत दिशा में होने से भाग्य बंद भी हो सकता है। जिस खिड़की से हवा आती है उस खिड़की से मुसीबतें भी आ सकती है। जिस खिड़की से प्रकाश आता है उसी खिड़की से अंधेरा भी आता है। अत: खिड़की का वास्तुशास्त्र के अनुसार होना चाहिए। आओ जानते है वास्तु के 12 टिप्स।

1. पश्चिमी, पूर्वी और उत्तरी दीवारों पर खिड़कियों का निर्माण शुभ माना गया है।

2. उत्तर दिशा में खिड़की होने से घर में धन और समृद्धि के द्वारा खुल जाते हैं।

3. दक्षिण दिशा में खिड़की होने से रोग और शोक की संभावना बढ़ जाती है, क्योंकि यह यम की दिशा होती है।

4. घर की दक्षिण दिशा की खिड़की शुभ नहीं होती, यदि है तो उस पर मोटा पर्दा लगा दें। नैऋत्य कोण में भी खिड़की नहीं होना चाहिए।

5. खिड़कियां कभी भी घर के सन्धि भाग में न बनवाएं।

6. मकान में खिड़कियां द्वार के सामने अधिकाधिक होनी चाहिए, ताकि चुम्बकीय चक्र पूर्ण होता रहे।

7. वास्तु के अनुसार मकान में खिड़कियों की संख्या बराबर होनी चाहिए। अर्थात सम संख्या में होना चाहिए।

8. खिड़की को भी अच्छे से सजाकर और पर्दे से ढंकी हुई रखें। खिड़की के आसपास बेलबुटे वाले चित्र होना चाहिए या रांगोली या मंडने वाली चित्रकारी होना चाहिए।

9. घर की सभी खिड़की व दरवाजे एक समान ऊंचाई पर होने चाहिए।

10. उत्तर का दरवाजा हमेशा लाभकारी होता है। इस दिशा में घर के सबसे ज्यादा खिड़की, बालकनी और दरवाजे होना चाहिए। उत्तर दिशा का द्वार समृद्धि, प्रसिद्ध और प्रसन्नता लेकर आता है।

11. खिड़किया दो पल्ले वाली होना चाहिए और इन्हें खोलने एवं बंद करने में आवाज नहीं होना चाहिए। पल्ले अंदर की ओर खुलना चाहिए बाहर की ओर नहीं।

12. खिड़कियां टूटी हुई, गंदी या आड़ी-तिरझी बनी हुई नहीं होना भी अशुभ है ।

View More

Largest Get To Gathering Of Astrologer

Hello my All Friends & Astro mitra.
there Is On 3rd Dec 2023 In Delhi Allso.in Presents Largest Astreolologer Get To Gather Function Plz Wellcome.

View More

Number 4 Meaning in Numerology

नंबर 4 बचाव के लिए है। अंकज्योतिष में 4 जीवन और कार्य के प्रति बिना सोचे-समझे दृष्टिकोण रखने वाला एक निरर्थक अंक है। यह बेहद भरोसेमंद है और किसी व्यक्ति या स्थिति को काफी हद तक स्थिरता प्रदान करता है। 4 आगे बढ़ने के लिए समर्पित है, लेकिन प्रगतिशील की तुलना में अधिक रूढ़िवादी तरीके से। यह नए तरीकों को आजमाने के बजाय जो आजमाया हुआ है उस पर कायम रहता है। कुछ एशियाई देशों में संख्या 4 को बहुत अशुभ माना जाता है। अंक ज्योतिष संख्या में 4 एक बुद्धिमान और तर्कसंगत ऊर्जा होती है जो हमें सुरक्षा और निरंतरता की भावना दिला सकती है। अंक 4 अपने दिमाग से नेतृत्व करता है, दिल से नहीं, और इस मानसिक शक्ति का उपयोग सेवा और संतुष्टि का जीवन बनाने के लिए करता है।

View More

कार्तिक मास का महत्व

कार्तिक मास में तुलसी की पूजा का भी बहुत खास महत्व बताया गया है। तुलसी का पौधा भगवान विष्णु को बहुत ही प्रिय है। इस महीने में नियमित रूप से तुलसी की पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं। कार्तिक मास में पूजा पाठ और उपवास करने से मनुष्य को वैभव की प्राप्ति होती है। इसके अलावा जो भी मनुष्य इस महीने में नियमित रूप से पूजा पाठ करता है और भगवान् विष्णु को तुलसी के पत्ते अर्पित करता है उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है। कार्तिक मास में श्रद्धा पूर्वक पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और मनुष्य के सभी रोग दूर हो जाते हैं और उनके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होती है।

View More